Nifty पहली बार हुआ 22000 के पार, निवेशकों ने की जमकर खरीदारी

0
29
nifty rally

नमस्कार दोस्तों आज का दिन निवेशकों के लिए बहुत ही शानदार रहा। घरेलू बाजार का बेंचमार्क Nifty 50 सोमवार को अपने नए उच्च बिंदु पर बंद हुआ। यह ध्यान रखना महत्वपूर्ण है कि यह लगातार पांचवां सत्र है जिसमें Nifty ने एक नया उच्च मूल्य प्राप्त किया है।

Nifty: क्यों बढ़े शेयर के दाम

यह आपके लिए जानकारी है कि Nifty 50 आज 21,894.55 के पिछले बंद के मुकाबले 22,053.15 पर खुला और सत्र के दौरान 22,115.55 के अपने नए सर्वकालिक उच्च स्तर पर पहुंच गया। Nifty इंडेक्स आखिरकार 203 अंक यानी 0.93 फीसदी की बढ़त के साथ 22,097.45 पर बंद हुआ।

विशेषज्ञ कह रहे हैं कि शेयर बाजार में तेजी कुछ कारकों की वजह से है, जिससे निवेशकों में भरोसा कायम हो रहा है। ये कारक हैं: कुछ कंपनियों, विशेषकर IT सेटर कंपनियों द्वारा दर्ज की गई मजबूत दिसंबर तिमाही की आय; यूएस फेड द्वारा संभावित ब्याज दर में कटौती; सकारात्मक व्यापक आर्थिक संकेतक और लोकसभा चुनाव के बाद राजनीतिक स्थिरता की उम्मीदें।

Nifty: IT सेक्टर की रही धूम

Nifty में आज टॉप पांच गेनर्स में से चार आईटी सेक्टर की कंपनियां हैं। Wipro (6.35% बढ़त), HCL Tech (3.08% बढ़त), Infosys (2.44% बढ़त) और Tech Mahindra (2.26% बढ़त) ने आज अच्छा रिटर्न दर्ज किया है।

अगर आज सेक्टर वाइज प्रदर्शन की बात करें तो टॉप पर आईटी सेक्टर रहा। Nifty IT में 1.86 प्रतिशत की बढ़त हुई और यह सेक्टोरल सूचकांकों में शीर्ष पर रहा। इसके बाद Nifty Oil and Gas में 1.73 फीसदी और Nifty Pharma में 1 फीसदी की बढ़ोतरी हुई।

दिलचस्प बात यह है कि, रिलायंस इंडस्ट्रीज, टीसीएस, इंफोसिस, टेक महिंद्रा, विप्रो, एचसीएलटेक, भारती एयरटेल, इंडसइंड बैंक, लार्सन एंड टुब्रो, सन फार्मा और टाटा मोटर्स सहित लगभग 565 शेयरों ने BSE इंट्राडे ट्रेड में अपने 52-सप्ताह के नए उच्चतम स्तर को छुआ।

Nifty: आगे कैसे रहेगी रफ़्तार

एसएएस के संस्थापक और सीईओ श्रेय जैन का कहना है कि ऐसी आशंका है कि Nifty 22,500 के स्तर तक पहुंच सकता है, बाजार सहभागियों ने रणनीतिक रूप से Nifty को नई रिकॉर्ड ऊंचाई पर पहुंचाया है।

इसी तरह, रेलिगेयर ब्रोकिंग के अजीत मिश्रा का कहना है कि Nifty 22,150 के आसपास रैली पर ब्रेक लगा सकता है, हालांकि भविष्य सकारात्मक रहने की संभावना है। यह वह बिंदु है जहां बाजार में गिरावट आने पर निवेशक अपने स्टॉक खरीद सकते हैं।

विशेषज्ञ कह रहे हैं कि अभी आईटी क्षेत्र के शेयर बाजार में धूम मचा रहे हैं। हालांकि, देर-सवेर हमें उम्मीद है कि ऑटो और एफएमसीजी क्षेत्र के शेयर भी भाग लेना शुरू कर देंगे और जारी रैली में योगदान देंगे।

एलकेपी सिक्योरिटीज के जतीन त्रिवेदी का कहना है कि इस सप्ताह आने वाले अमेरिकी खुदरा बिक्री डेटा से ब्याज दर निर्णय के लिए फेडरल रिजर्व के विचारों के बारे में जानकारी मिलने की उम्मीद है। इससे कुछ हद तक भारतीय बाजार की स्थिति पर भी असर पड़ेगा।

ALSO CHECK: इस कंपनी के M-Cap ने तोड़ा रिकॉर्ड, अभी शेयर ले लो हो जाओगे मालामाल 

अगर आपको यह लेख पसंद आया तो कृपया इसे दूसरों के साथ साझा करें और ऐसे और लेखों के लिए इस ब्लॉग को पढ़ते रहें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here