Tesla in India: Tesla बनाएगी भारत में कारें, TATA EV कारों के साथ होगी सीधी टक्कर

0
39
tesla

भारत के electric vehicles बाजार का आकार 2020 में 220.1 मिलियन अमेरिकी डॉलर था और यह 2021 से 2030 तक 94.4% की चक्रवृद्धि वार्षिक वृद्धि दर (CGAR) से बढ़ रहा है। यदि आप भविष्य में electric car खरीदना चाह रहे हैं तो आपके लिए संभावना है कि आपको कई विकल्प मिलेंगे क्योंकि Tesla manufacturing unit को भारत में स्थापित करने के लिए लगभग अंतिम रूप दे दिया गया है।

Tesla in India: गुजरात में होगा प्लांट

मीडिया रिपोर्टों के अनुसार Tesla अगले साल गुजरात में अपने विनिर्माण संयंत्र के साथ भारत में प्रवेश करने के लिए पूरी तरह तैयार है। भारत में Tesla EV निर्माता की पहली विनिर्माण इकाई की स्थापना के लिए बातचीत अपने अंतिम चरण में पहुंच गई है और जल्द ही विनिर्माण इकाई की स्थापना के साथ समाप्त होने की संभावना है।

tesla in gujarat

अहमदाबाद मिरर की रिपोर्ट के अनुसार, Tesla विनिर्माण संयंत्र का संभावित स्थान साणंद, बेचराजी और धोलेरा हो सकता है।

मीडिया रिपोर्टों के अनुसार, गुजरात न केवल राज्य सरकार की नीतियों के कारण, बल्कि अपने उत्पादों के निर्यात को सक्षम करने के लिए बंदरगाहों से निकटता के कारण भी Tesla के लिए अपना विनिर्माण संयंत्र स्थापित करने के लिए शीर्ष स्थान के रूप में उभरा है।

गुजरात में कांडला-मुंद्रा बंदरगाह से कम दूरी के कारण Tesla साणंद जैसे स्थानों से भारत से अपने निर्यात को बढ़ावा दे सकता है।

Tesla in India: भारत सरकार देगी रियातें

गुजरात राज्य में Tesla विनिर्माण इकाई से संबंधित घोषणा आगामी वाइब्रेंट गुजरात शिखर सम्मेलन में होने की संभावना है, जो जनवरी 2024 में आयोजित होने जा रही है, और मीडिया द्वारा रिपोर्ट की गई टेस्ला प्रमुख एलोन मस्क की उपस्थिति में होगी।

tesla in india

इस क्षेत्र में खबर है कि Tesla को लगभग 15-20 प्रतिशत के रियायती आयात शुल्क पर पूरी तरह से निर्मित कारों को आयात करने की अनुमति दी जा सकती है, जो ऐसे आयात पर मौजूदा 100 प्रतिशत से काफी कम है। पहले यह Tesla और भारत सरकार के बीच विवाद का मुख्य मुद्दा था।

टाटा मोटर्स और महिंद्रा जैसे भारतीय EV निर्माताओं ने पहले ही आपत्ति जताई है कि वे पहले से ही भारत में ऑटोमोबाइल और electric vehicles का निर्माण कर रहे हैं और सवाल किया है कि Tesla को कोई विशेष उपचार क्यों दिया जाना चाहिए।

Tesla in India: भारत में बनने वाले मॉडल्स

हमें ध्यान देना चाहिए कि Tesla EV वर्तमान में दुनिया का सबसे ज्यादा बिकने वाला वाहन है। Tesla Model Y– अब दुनिया की सबसे ज्यादा बिकने वाली कार है। Tesla Model Y ने 2023 की पहली तिमाही में वैश्विक बिक्री रैंकिंग में शीर्ष स्थान पर Toyota के RAV4 और Corolla मॉडल को पीछे छोड़ दिया है।

tesla model y

Tesla Model S बहुत ही शानदार है, इसमें वैसी ही लंबी और नीची डिज़ाइन लाइनें हैं जैसी आपको जगुआर पर मिल सकती हैं। Tesla Model S मूल रूप से 2012 में लॉन्च किया गया था और इसने Tesla को एक वाहन निर्माता के रूप में मानचित्र पर लाने में मदद की। Tesla ने रिलीज़ के बाद से Model S को अपडेट करना जारी रखा है, और वर्तमान में इसके दो संस्करण हैं: मॉडल एस और प्लेड।

tesla model s

Tesla Model 3 को Model S के किफायती विकल्प के रूप में 2016 में अमेरिका में लॉन्च किया गया था। नया Model 3 अक्टूबर 2023 में यूरोप में लॉन्च किया गया है। यह 2024 में यूके और आयरलैंड में उपलब्धता के लिए निर्धारित है। इसलिए उम्मीद है कि यह होगा भारत में निर्मित किया जाएगा.

tesla model 3

Tesla Model X इलेक्ट्रिक कार का असली जवाब है। यह एक एसयूवी-स्टाइल EV है जो सात लोगों के बैठने में सक्षम है। इसमें विशिष्ट रूप से रियर फाल्कन विंग दरवाजे हैं, जो अंदर की विशाल टचस्क्रीन के साथ, आपको एक भविष्य की कार का अनुभव देंगे। कार में दो मॉडल हैं, लेकिन तीन अलग-अलग बैठने की व्यवस्था है।

tesla model x

ALSO CHECK: TATA दे रही इतना तगड़ी छूट, कार बाज़ार में मचा तहलका

लोगों ने और क्या पूछा

1. भारत के इलेक्ट्रिक वाहन बाजार में प्रमुख खिलाड़ी कौन हैं?

भारत के इलेक्ट्रिक वाहन बाजार में सक्रिय कुछ प्रमुख खिलाड़ियों में हुंडई मोटर इंडिया, टाटा मोटर्स, महिंद्रा एंड महिंद्रा लिमिटेड, ऑडी एजी, बीएमडब्ल्यू एजी, एमजी मोटर इंडिया प्राइवेट शामिल हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here