Zomato के तगड़े प्रॉफिट के बाद, कैसे रहेगी इसक शेयर की चाल, जानें यँहा 

0
14
zomato

नमस्कार दोस्तों, ऑनलाइन फूड डिलीवरी कंपनी Zomato (जोमैटो) ने वित्त वर्ष 2023-24 के लिए अपने तीसरी तिमाही के नतीजे नेशनल स्टॉक एक्सचेंज में दाखिल कर दिए हैं। Zomato (ज़ोमैटो) एक बहुत अच्छा व्यवसाय है जो अपने डिलीवरी पार्टनर्स के माध्यम से रेस्तरां से ग्राहकों तक भोजन पहुंचा रहा है।

जब भी कोई कंपनी अपना तिमाही परिणाम दाखिल करती है तो उसका असर उसके शेयरों पर पड़ता है। इस लेख में हम Zomato (जोमैटो) के तीसरी तिमाही के नतीजों का विश्लेषण करने जा रहे हैं और निवेशकों द्वारा नतीजों को किस तरह लिया जाएगा इस पर भी गौर किया जाएगा।

Zomato third quarter result (ज़ोमैटो के तीसरी तिमाही के नतीजे)

Zomato (ज़ोमैटो) के तीसरे तिमाही के नतीजों में हम देख सकते हैं कि लोग ऑनलाइन खाना ज़्यादा ऑर्डर कर रहे हैं क्योंकि कंपनी ने 138 करोड़ रुपये का प्रभावशाली मुनाफ़ा दर्ज किया है।

यह Zomato (जोमैटो) के मुनाफे में 283% का भारी उछाल है। उल्लेखनीय है कि Zomato (जोमैटो) कंपनी को पिछले साल की समान तिमाही में 347 करोड़ रुपये का घाटा हुआ था।

Zomato कंपनी का राजस्व भी पिछले वर्ष से 69% बढ़ गया है जो कुल 3,288 करोड़ रुपये है। यह एक ऑनलाइन फूड डिलीवरी कंपनी के लिए बहुत अच्छी वृद्धि है जो पिछली तिमाहियों में घाटे का सामना कर रही थी।

आपकी जानकारी के लिए बता दे कि एक ऑनलाइन फूड डिलीवरी कंपनी की वृद्धि को Gross Order Value (सकल ऑर्डर मूल्य) (GOV) के संदर्भ में मापा जाता है। Zomato कंपनी के लिए इस तिमाही में GOV की साल दर साल वृद्धि 27% है।

Zomato कंपनी ने बयान में कहा है कि कंपनी 20% से अधिक GOV की मजबूत वृद्धि की उम्मीद कर रही है क्योंकि Zomato आने वाले महीनों में अधिक बाजार हिस्सेदारी हासिल करेगा और उपभोक्ता भी ऑनलाइन स्टोर से अधिक खाद्य पदार्थ ऑर्डर करेंगे।

अगर हम Zomato के राजस्व के विवरण पर नज़र डालें, तो इसने अपने कुल परिचालन राजस्व का 51.8% फ़ूड ऑर्डरिंग और डिलीवरी व्यवसाय के माध्यम से कमाया, जो कि वित्त वर्ष 2024 की तीसरी तिमाही में 10.2% बढ़कर 1,704 करोड़ रुपये हो गया, जो उसी वित्तीय वर्ष की दूसरी तिमाही में 1,546 करोड़ रुपये था।

इसी अवधि के दौरान Zomato की हाइपरप्योर सप्लाई (बी2बी बिजनेस) से संग्रह 15.3% बढ़कर 859 करोड़ रुपये हो गया, जबकि क्विक कॉमर्स वर्टिकल (Blinkit) ने समूह के राजस्व में 644 करोड़ रुपये का योगदान दिया।

Zomato Share Price

यह उल्लेख करना महत्वपूर्ण है कि Zomato ने जुलाई 2021 में 12 बिलियन डॉलर के मूल्यांकन के साथ शेयर बाजार में अपनी शुरुआत की और नवंबर 2021 में 150 रुपये प्रति शेयर से अधिक के अपने शिखर को छुआ। बाद में, जुलाई 2022 के दौरान इसके शेयर की कीमत 50 रुपये से कम हो गई।

वित्त वर्ष 2024 की पहली तिमाही में Zomato कंपनी को पहली बार मुनाफा हुआ था। तब से, कंपनी ने अपने शेयर की कीमत में लगभग 3 गुना वृद्धि हासिल की और इसकी वर्तमान शेयर कीमत लगभग 144 रुपये प्रति शेयर है।

आखिरी कारोबारी दिन निफ्टी पर Zomato कंपनी का शेयर 3.71% की बढ़त के साथ 149.45 रुपये पर बंद हुआ था।

अगर हम शेयर की उच्च और निम्न कीमत के बारे में बात करते हैं, तो Zomato शेयर का 52 सप्ताह का उच्चतम और निम्न क्रमशः 151.40 रुपये और 49 रुपये है।

Zomato ने निवेशकों को मध्यम रिटर्न दिया है, BSE एनालिटिक्स के मुताबिक, Zomato के शेयरों ने 1 महीने में 11 फीसदी, पिछले 6 महीने में 58.80 फीसदी और पिछले 1 साल में 174.72 फीसदी का रिटर्न दिया है।

Zomato Share: खरीदें या बेचें 

अगर हम Zomato शेयर की भविष्य की संभावनाओं के बारे में बात करें तो हम इस पर विशेषज्ञों की राय देख सकते हैं। HSBC ने कंपनी पर Buying (खरीदें) रेटिंग बरकरार रखी है और सकारात्मक दृष्टिकोण व्यक्त करते हुए लक्ष्य मूल्य को बढ़ाकर 163 रुपये/शेयर कर दिया है। इसी तरह, जेफ़रीज़ ने भी कंपनी पर Buying (खरीदें) रेटिंग की वकालत की है, और लक्ष्य मूल्य को बढ़ाकर 250 रुपये/शेयर कर दिया है।

ALSO CHECK: Nifty Today: RBI की मौद्रिक नीति के बीच कैसी रहेगी निफ़्टी की चाल, जाने यँहा 

Disclaimer: इस लेख में व्यक्त विचार केवल सूचनात्मक और मनोरंजन के उद्देश्य से हैं, इसे निवेश सलाह के रूप में नहीं समझा जाना चाहिए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here